मंगलवार, 11 नवंबर 2008

साध्वी प्रज्ञा के समर्थन मे बाबा रामदेव


मालेगांव बम विस्फोट की आरोपी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर के पक्ष में आते हुए योग गुरू स्वामी रामदेव ने आज कहा कि पूछताछ के नाम पर उन्हें यातना देना और अपमानित करना ठीक नहीं है। स्वामी रामदेव ने एक संवाददाता सम्मेलन में पत्रकारों द्वारा पूछे गये प्रश्नों के जवाब में कहा कि हालांकि इस मामले की जांच चल रही है फिर भी वह कहना चाहेंगे कि साध्वी प्रज्ञा ठाकुर का चार बार नार्को परीक्षण कराया गया है फिर भी उसमें कुछ नहीं निकलना मामले को संदिग्ध बनाता है। लगता है कि अपराध में उनकी संलिप्तता नहीं थी।

उन्होंने आक्रोशित लहजे में कहा कि अनेक राजनेता अपराध में लिप्त पाये गये हैं फिर उनका नार्को परीक्षण क्यों नहीं कराया गया। उन्होंने कहा कि इस मामले में जल्दबाजी करना ठीक नहीं है। उन्होंने रोष व्यक्त किया कि पूर्व में श्रृंगेरी के शंकराचार्य को भी इसी प्रकार अपमानित किया गया था। उन्होंने कहा कि मुस्लिम आतंकवाद फिर हिन्दू आतंकवाद और अब राजनीतिक आतंकवाद आने वाला है जिससे लोगों को सावधान रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि राजनेता ही अपराधियों को संरक्षण देकर राजनीति को गंदा कर रहे है तथा आतंकवाद को बढावा दे रहे है।

0 टिप्पणियाँ:

समर्थक